ब्रिटेन की तीसरी महिला प्रधानमंत्री होंगी लिज ट्रस, आज लेंगी शपथ

0
32

[ad_1]

Liz Truss Set To Become UK PM: ब्रिटेन में पीएम पद को लेकर चुनाव जीतने के बाद सत्तारूढ़ कंजरवेटिव पार्टी (Conservative Party) की लिज ट्रस (Liz Truss) प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने के लिए तैयार हैं. पीएम पद की रेस में भारतवंशी ऋषि सुनक (Rishi Sunak) को हराकर लिज ब्रिटेन की पीएम बनने जा रही हैं. प्रधानमंत्री के रूप में वो बोरिस जॉनसन का स्थान लेंगी. देश में आर्थिक संकट से निपटने के लिए शीर्ष कैबिनेट मंत्रियों की एक नई टीम नियुक्त करने से पहले लिज ट्रस स्काटलैंड में महारानी एलिजाबेथ से मुलाकात करेंगी.

यूनाइटेड किंगडम की कंजरवेटिव पार्टी ने सोमवार को घोषणा की थी कि उसने लिज़ ट्रस को अपने नए नेता के रूप में चुना है. ट्रस ने चुनाव में अपने प्रतिद्वंद्वी ऋषि सुनक को हराया. लिज ट्रस को 81,326 जबकि ऋषि सुनक को 60,399 वोट मिले.

लिज ट्रस होंगी ब्रिटेन की तीसरी महिला पीएम
 
ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय मंगलवार को लिज ट्रस को औपचारिक रूप से प्रधानमंत्री नामित करेंगी. लिज ट्रस 2016 के बाद से ब्रिटेन में चौथी प्रधानमंत्री और देश की तीसरी महिला प्रधानमंत्री बनेंगी. उनके पहले मार्गरेट थैचर और थेरेसा मे इस कुर्सी पर रह चुकी हैं. पीएम बोरिस जॉनसन मंगलवार को स्कॉटलैंड जाकर महारानी एलिजाबेथ द्वितीय (Queen Elizabeth) को औपचारिक रूप से अपना इस्तीफा सौंपेंगे. इस दौरान लिज ट्रस भी उनके साथ होंगी. महारानी एलिजाबेथ उन्हें सरकार बनाने के लिए शपथ दिलाएंगी. 

क्या हैं चुनौतियां?

लिज ट्रस 7 सितंबर को हाउस ऑफ कॉमन्स में पहली बार प्रधानमंत्री के तौर पर जाएंगी. लिज ट्रस के सामने महंगाई, औद्योगिक अशांति और देश में आर्थिक मंदी की आशंका से निपटने की बड़ी चुनौतियां होंगी. जुलाई में देश में मुद्रास्फीति की दर 10 फीसदी ऊपर जा पहुंची. चुनाव प्रचार के दौरान लिज ट्रस ने टैक्स बढ़ोतरी वापस लेने, महंगाई को नियंत्रण में करने, ऊर्जा की बढ़ती कीमतों पर लगाम समेत कई और मसलों का समाधान देने का वादा किया था. हालांकि कुछ अर्थशास्त्री ये मानते हैं कि पहले से ही गंभीर हो चुकी मुद्रास्फीति की समस्या टैक्स में कटौती के बाद और विकराल हो सकती है.

ऋषि सुनक ने दी कड़ी टक्कर

बोरिस जॉनसन (Boris Johnsons) ने अपने सहयोगी लिज़ ट्रस (Liz Truss) को उनकी निर्णायक जीत के लिए बधाई दी है. उधर, हार के बाद ऋषि सुनक ने ट्विटर पर उनका समर्थन करने वाले पार्टी सदस्यों को धन्यवाद दिया है. बता दें कि लिज ट्रस को चुनाव में ऋषि सुनक ने कड़ी टक्कर दी है. साल 2021 के बाद ट्रस पहली ऐसी पीएम हैं, जिन्हें अपनी पार्टी के वोटरों के 60 फीसदी से कम का समर्थन मिला. लिज ट्रस के पाले में सिर्फ 57 फीसदी वोट आए, जबकि 2019 में प्रधानमंत्री पद के लिए जॉनसन को 66.4 फीसदी पार्टी सदस्यों का समर्थन मिला था.

ये भी पढ़ें:

Liz Truss Challenges: भारत के साथ बेहतर रिश्ते की पक्षधर हैं लिज ट्रस, ब्रिटेन की नई PM के सामने रहेंगी ये 8 बड़ी चुनौतियां

Liz Truss Cabinet: पूरी कैबिनेट बदलेंगी ब्रिटेन की नई PM, क्या ऋषि सुनक बनेंगे लिज ट्रस की टीम के सदस्य?

[ad_2]

Source Link